UPSC IAS Economics Notes | Taxation System of India

UPSC IAS Economics Notes | Taxation System of India

UPSC IAS Economics Notes | Taxation System of India

UPSC IAS Economics Notes | Taxation System of India

UPSC IAS Economics Notes | Taxation System of India

Tax Structure/कर सरंचना:

Tax structure is classified into/ कर सरंचना को वर्गीकृत किया जा सकता है :

  • Direct and Indirect tax/प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर
  • Progressive and Regressive tax/प्रगतिशील कर और प्रतिगामी कर
  • Ad valorem and specific tax/मूल्यवृद्धि कर और वजनानुसार कर

Direct tax/प्रत्यक्ष कर :

  • A direct tax is a tax whose burden is borne by the same person on whom it is imposed./एक प्रत्यक्ष कर वह कर है जिसका भार उसी व्यक्ति पर होता है जिसपर इसे आरोपित किया जाता है |
  • Ex., Tax imposed on income of an individual./उदाहरण के लिए एक व्यक्ति के आय पर लगाया गया कर |
  • Direct tax reduces inequalities./प्रत्यक्ष कर असमानताओं को कम करता है |

Indirect tax/अप्रत्यक्ष कर :

  • An indirect tax is imposed on someone but its burden gets shifted on someone else./एक अप्रत्यक्ष कर वह कर है जिसे आरोपित किसी अन्य व्यक्ति पर किया जाता है और इसका भार किसी अन्य व्यक्ति पर बदलता रहता है |
  • Ex., Taxes imposed on goods and services./उदाहरण के लिए, वस्तुओं व सेवाओं पर लगाया कर कर |

Progressive tax/प्रगतिशील कर

It means a person pays higher tax as his income progresses i.e., the rate of tax on his income goes up as his income rises./इसका अर्थ यह है कि जैसे-जैसे एक व्यक्ति की आय बढती है वैसे-वैसे वह अधिक कर भुगतान करता है | जैसे कि उसके आय के बढ़ने पर उसका कर भी ऊपर बढ़ता है |

Regressive tax/प्रतिगामी कर :

The rate of tax comes down as income goes up./कर की दर आय के बढ़ने पर घटती है |

Ad valorem tax/मूल्यवृद्धि कर :

It means tax imposed on the total value of a commodity produced/ sold./इसका अर्थ है कि उत्पादित / बेची गयी वस्तुओं के कुल मूल्य पर लगाया गया कर |

Specific tax/वजनानुसार कर :

It means tax imposed on the basis of specific feature of a commodity like width, weight, volume etc./इसका अर्थ यह है कि एक वस्तु के विशेष गुण जैसे कि चौड़ाई, वजन, आयतन इत्यादि के आधार पर लगाया गया कर |

Tax Structure of India/भारत की कर सरंचना :

  • Progressive in nature/प्रकृति में आरोही |
  • It is prone to tax evasion means there are many loopholes and exemptions which leave enough scope for avoidance of taxes./यह कर चोरी के प्रति उन्मुख है, अर्थ यह हुआ कि इसमें कई सारे बचाव के उपाय है और छूट है जिससे कर से बचने के लिए काफी मौका मिल जाता है |
  • Complex structure implying that not only tax rates may be high but also with many slabs giving room for evasion./कठिन सरंचना से निर्मित जिससे न सिर्फ कर दरें अधिक होती है बल्कि कर चोरी के लिए कई स्लैब भी प्रदान किये गए हैं |
  • Excludes tax on agriculture./कृषि पर कर नहीं |

Surcharge Vs. Cess/अधिभार बनाम सेस :

  • Surcharge means tax on tax which is imposed on incomes above a certain level. It is imposed with a view to reduce the inequalities between high income groups and low income groups./अधिभार का अर्थ है कि कर पर कर जो कि आय के एक निश्चित स्तर के ऊपर  लगाया जाता है | यह अधिक आय समूह और कम आय समूहों के बीच विषमता को कम करने के दृष्टि से आरोपित किया जाता है |
  • Cess is defined as a temporary levy by the GoI to fulfil a particular purpose./सेस को एक विशेष उद्देश्य के पूर्ति के लिए भारत सरकार द्वारा अस्थायी आरोपित कर से परिभाषित किया जा सकता है

Personal Income Tax/व्यक्तिगत आय कर :

  • It is levied by the Central Government./यह केंद्र सरकार द्वारा आरोपित कर है |
  • It is levied on individuals and Hindu Undivided Family./यह प्रत्येक व्यक्ति व हिन्दू अविभाजित परिवार पर लगाया जाता है |
  • It is a progressive tax./यह प्रगतिशील कर है |
  • Income tax is a tax on the flow of assets (a change in stock)./आय कर संपत्तियों के प्रवाह ( स्टॉक में परिवर्तन ) पर कर है |
  • Currently, the minimum taxable income with reference to Income tax is Rs. 2,50,000./वर्तमान में, आय कर से सम्बंधित न्यूनतम कराधीन आय 2,50,000 रु. है |

Direct Taxes/प्रत्यक्ष कर:

Corporate Income Tax/निगम आय कर :

  • It is levied on the income of the registered companies./यह पंजीकृत कंपनियों के आय पर आरोपित कर है |
  • Currently, the tax rate for domestic companies is 30% and for foreign companies is 40%./वर्तमान में, घरेलु कंपनियों के लिए कर दर 30% है, और विदेशी कंपनियों के लिए यह 40% है |
  • There is also a surcharge of 10% on domestic companies and 5% on foreign companies whose taxable income exceeds Rs. 10 crores./वैसे कम्पनियां जिनके कराधीन आय 10 करोड़ से अधिक है वैसी घरेलू कंपनियों पर 10% का अधिभार  है और विदेशी कंपनियों पर 5% है |

Wealth Tax/संपत्ति कर :

  • A wealth tax (also called a capital tax or equity tax) is a levy on the total value of personal assets, including: bank deposits, real estate, assets in insurance and pension plans, ownership of unincorporated businesses, financial securities, and personal trusts./एक संपत्ति कर ( जिसे पूंजीगत कर या समता कर भी कहा जाता है ) व्यक्तिगत सम्पतियों के कुल मूल्य जिसमें बैंक जमाएं, रियल एस्टेट, बीमा और पेंशन योजना के संपत्ति, अनिग्मित व्यवसायों के स्वामित्व, वित्तीय प्रतिभूतियां और व्यक्तिगत ट्रस्ट शामिल हैं, पर लगाया जाता है |
  • Typically liabilities (primarily mortgages and other loans) are deducted, hence it is sometimes called a net wealth tax./आम तौर पर दायित्वों ( मुख्यतः बंधक और अन्य ऋण ) को घटा दिया जाता है, इसलिए इसे शुद्ध संपत्ति कर भी कहते है |
  • It taxes the accumulated stock of purchasing power. It has been discontinued from 2016-17./यह क्रय शक्ति के संचित स्टॉक पर कर आरोपित करता है | इसे 2016-17 में समाप्त कर दिया गया |

Securities Transaction Tax/प्रतिभूति लेनदेन कर :

  • It is a type of direct tax payable on the value of taxable securities transaction done through a recognised stock exchange in the country./देश में मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंज द्वारा कराधीन प्रतिभूतियों के लेनदेन के मूल्य पर देय प्रत्यक्ष कर का प्रकार है |
  • This tax is applicable on securities like shares, bonds, debentures, derivative units issued by any collective investment scheme, equity based government rights or interests in securities and equity mutual funds./यह कर अंश, बांड, ऋणपत्र, किसी सामूहिक निवेश योजना द्वारा जारी व्युत्पन्न इकाई, प्रतिभूतियों में समता आधारित सरकारी अधिकार या ब्याज और समता साझा कोष जैसे प्रतिभूतियों पर यह कर लगाया जाता है |
  • Off-market share transactions are not covered under it./बाजार से बाहर के अंश लेनदेन इसमें शामिल नहीं किये जाते हैं |
  • The rate for taxation for STT is set by the government and depends upon the type of security and type of transaction (sale/ purchase)./एसटीटी के कराधान के लिए दर सरकार द्वारा तय की जाती है और यह प्रतिभूति व लेनदेन (खरीद / बिक्री ) के प्रकार पर निर्भर करती है |
  • For equity transactions, that are delivery based, STT for purchase and sale is 0.1% of turnover and for intra-day transactions, STT for purchase is nil and sale is 0.025% of the turnover./समता लेनदेनों के लिए, जो कि डिलीवरी आधारित होते हैं, खरीद और बिक्री की एसटीटी दर लेनदेन की 0.1% है और इंटर-डे लेनदेनों के लिए खरीद पर एसटीटी शून्य है और बिक्री पर कुल का 0.025% है |
  • Service Tax, Surcharge and Education Cess are not applicable to STT./सेवा कर, अधिभार और शिक्षा सेस एसटीटी पर लागू नहीं होते हैं |

Indirect Taxes/अप्रत्यक्ष कर:

Central Excise Duties/केन्द्रीय उत्पाद शुल्क :

    • These duties are levied by the Centre on commodities which are produced within the country./देश के अन्दर उत्पादित वस्तुओं पर केंद्र द्वारा ये शुल्क आरोपित किये जाते हैं |
    • Major items on which central excise duty is imposed are sugar, cotton, mill cloth, tobacco, motor spirit, matches, cement etc./चीनी, कपास, मिल कपड़ा, तम्बाकू, मोटर स्पिरिट, सलाई, सीमेंट इत्यादि वे महत्वपूर्ण मद हैं जिनपर केन्द्रीय उत्पाद शुल्क आरोपित हैं |
    • Commodities on which the State Governments impose excise duties (like liquor and drugs) are exempted from central excise duties./वे वस्तुएँ जिनपर राज्य सरकार उत्पाद शुल्क आरोपित करती है ( जैसे शराब और दवा ), उन्हें केन्द्रीय उत्पाद शुल्क से छूट प्राप्त है |
    • Excise duty is called CENVAT (Central Value Added Tax) as it is imposed only by the Centre on the basis of the principle of VAT./उत्पाद शुल्क को सेनवैट ( केन्द्रीय मूल्य संवर्धित कर ) कहते हैं क्योंकि यह वैट के सिद्धांत पर सिर्फ केंद्र द्वारा लगाया जाता है |

Custom duties/सीमा शुल्क :

These comprise of duties levied on imports and exports./इसमें आयात और निर्यात पर लगाया जाने वाला शुल्क शामिल है |

The custom duties imposed during export are known as ‘export duties’./निर्यात के दौरान लगाये जाने वाले सीमा शुल्क निर्यात शुल्कसे जाना जाता है |

3 types of Custom duty/3 प्रकार के सीमा शुल्क :

  • Basic Custom duty/मुलभूत सीमा शुल्क
  • Anti dumping duty/डंपिंग रोधी शुल्क
  • Counter Vailing duty/काउंटर वेलिंग शुल्क

Basic Custom duty/मुलभूत सीमा शुल्क :

It means duty which is imposed on most goods imported into a country./इसका अर्थ यह है कि देश में आयात किये गए अधिकतर वस्तुओं पर यह शुल्क आरोपित की जाती है |

It is called ‘peak rate of duty’./इसे शुल्क का शिखर दर भी कहते हैं |

Anti- Dumping duty/डंपिंग रोधी शुल्क :

It is a penalty imposed on suspiciously low-priced imports, to increase their price in the importing country and so protect local industry from unfair competition./यह कम मूल्य वाले आयातों संदिग्धों पर लगाया गया जुरमाना है. जिससे आयत करने वाले देश में उनका मूल्य बढ़ जाये और इससे स्थानीय उद्योग की रक्षा अनुचित प्रतियोगिता से की जा सके |

Counter Varying/काउंटर वेरिंग :

It means duty imposed on such imported goods whose price happens to be lower than the price of similar domestic goods due to subsidy given by the exporting country. Hence, to neutralise the price advantage enjoyed on the imported commodity, a counter varying duty may be imposed./इसका अर्थ यह है कि वैसे आयातित वस्तुओं पर लगाया गया सीमा शुल्क, जिनका मूल्य निर्यातित देश द्वारा सब्सिडी देने के कारण आयातित देश के समान घरेलू वस्तुओं से कम है | इसलिए, आयातित वस्तु पर मिलने वाले मूल्य लाभ को ख़तम करने के लिए एक काउंटर वेरिंग शुल्क लगाया जाता है |

Service Tax/सेवा कर :

  • It was levied by the Centre but collected and appropriated by both the Centre and the States.यह केंद्र द्वारा लगाया जाता था, लेकिन राज्यों और केंद्र दोनों  द्वारा इसे संग्रहित व वितरित किया जाता है |
  • It was imposed initially in 1994-1995 on insurance services, telephone services, brokerage etc. Later, more and more services were added./ यह 1994-1995 में पहले बीमा सेवाओं, टेलीफोन सेवाओं, आढ़त इत्यादि पर लगाया गया था | बाद में, और अधिक सेवाओं को इसमें जोड़ा गया |

Sales Tax and Central Sales Tax/बिक्री कर और केन्द्रीय बिक्री कर :

    • Sales tax is levied on purchase of goods only./ बिक्री कर सिर्फ माल के क्रय पर लगाया जाता है |
    • The Sales tax in most goods (except newspapers) for Intra-State sales and consumption are within the powers of the State Government. They levy, collect and appropriate these taxes./अंतर्राज्य बिक्री व उपभोग के लिए अधिकतर वस्तुओं ( समाचार पत्र को छोड़कर ) की बिक्री कर राज्य सरकार के शक्तियों के अधीन है | ये इन करों को आरोपित करते हैं, वसूलते हैं व प्रयोग करते हैं |
    • The Sales tax on Inter-State sale of goods is levied by the Central Government and is payable to the state of origin. It is commonly known as Central Sales tax./दो राज्यों के बीच वस्तुओं के बिक्री पर बिक्री कर केंद्र सरकार द्वारा लगाया जाता है और मूल राज्य को देय होता है | इसे सामान्यतः केन्द्रीय बिक्री कर  से जाना जाता है |

Value Added Tax/मूल्य संवर्धित कर :

While Sales tax is a single point tax levied on the price of goods, VAT is a multipoint tax in which tax is levied at each stage of transaction in the production/ distribution chain./जहा बिक्री कर वस्तुओं के मूल्य पर लगाया कर एकल बिंदु कर है, वैट एक अधिबिंदु कर है जिसमें उत्पादन / वितरण श्रृंखला में लेनदेन के प्रत्येक बिंदु पर कर लगाया जाता है |

Sales tax was replaced by VAT./बिक्री कर की जगह वैट ने ले ली है |

Goods and Services taxवस्तु व सेवा कर:

GST is a comprehensive, multi- stage, destination- based tax that will be levied on every value addition./जीएसटी एक व्यापक, बहुस्तरीय, गंतव्य आधारित कर है जो प्रत्येक संवर्धित मूल्य पर लागू होगा |

The GST comprises of/जीएसटी में शामिल है :

  • Central GST or CGST: To be charged by the Central government./केन्द्रीय जीएसटी या सीजीएसटी : केंद्र सरकार द्वारा लगाया जाने वाला |
  • State GST or SGST: To be charged by the State government./राज्य जीएसटी या एसजीएसटी : राज्य सरकार द्वारा लगाया जाने वाला |
  • Integrated GST or IGST: To be charged by Central government on the inter-state supply of various goods and services./समेकित जीएसटी या आईजीएसटी : बहु राज्यों के बीच विभिन्न वस्तुओं व सेवाओं के पूर्ति पर केंद्र सरकार द्वारा लगाया जाने वाला |

There are 4 GST rate slabs- 5%, 8%, 18% and 28%./जीएसटी स्लैब दर 4 हैं : – 5%, 8%, 18% और 28% |

At the Central level, the following taxes are subsumed/केन्द्रीय स्तर पर निम्नलिखित कर सम्मिलित हैं :

(a)Central Excise duty/केन्द्रीय उत्पाद शुल्क

(b)Additional Excise duty/अतिरिक्त उत्पाद शुल्क

(c)Service tax/सेवा कर

(d)Additional Custom duty (Countervailing duty)/अतिरिक्त सीमा शुल्क ( काउंटरवेलिंग शुल्क )

(e)Special Additional duty of customs/विशेष अतिरिक्त सीमा शुल्क

At the State level, the following taxes are subsumed/राज्य स्तर पर, निम्नलिखित कर सम्मिलित हैं

(a) State Value added tax/ Sales tax/राज्य मूल्य संवर्धित कर / बिक्री कर

(b) Entertainment tax (other than the tax levied by the local bodies), Central Sales tax (levied by the Centre and collected by the States) /मनोरंजन कर ( स्थानीय निकायों द्वारा लगाया जाने वाला कर से अलग ), केन्द्रीय बिक्री कर ( केंद्र द्वारा लगाया जाने वाला और राज्य द्वारा वसूला जाने वाला )

(c) Octroi and Entry tax/चुंगी व प्रवेश शुल्क

(d) Purchase tax/क्रय कर

(e) Luxury tax/विलासिता कर

(f) Taxes on lottery, betting and gambling./सट्टेबाजी, लोटरी और द्यूतक्रीड़ा पर कर |

This tax was recommended by Kelkar Task force in 2004./यह कर 2004 में केलकर कार्यदल द्वारा सिफारिश किया गया |

  • Items like Alcohol, Petroleum products like Crude oil, petrol, diesel, jet fuel and natural gas have been kept out of purview of GST./अल्कोहल, पेट्रोलियम उत्पाद जैसे कच्चा तेल, पेट्रोल, डीजल, जेट इंधन और प्राकृतिक गैस को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है |
  • Recently, Government has decreased GST on some items and even made GST 0% on some items./हाल ही में, सरकार ने कुछ वस्तुओं पर जीएसटी को कम किया है और कुछ पर 0% कर दिया है |

GST Council/जीएसटी परिषद् :

  • It comprises of Union Finance Minister as its Chairman, Union Minister of State in charge of Revenue or Finance and Minister in charge of Finance or Taxation or any other Minister, nominated by each State government./इसके अध्यक्ष के रूप में संघ वित्त मंत्री, राजस्व या वित्त के निरक्षक संघ राज्य मंत्री, प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा नामांकित वित्त या कर के निरीक्षक में मत्री या कोई अन्य मंत्री इसमें शामिल हैं |
  • The decisions of GST Council are made by three-fourth majority of votes cast. The Centre has one-third of the votes cast and the states two-third./किये गए मतदान के तीन-चौथाई बहुमत द्वारा जीएसटी परिषद् के निर्णय लिए जाते हैं | कुल मत का एक-तिहाई केंद्र व दो-तिहाई राज्यों द्वारा किया जाता है |
  • Each state has one vote irrespective of its population./प्रत्येक राज्य का एक ही मत होता है चाहे उसकी जनसँख्या कितनी भी हो |
  • It makes important recommendations related to GST like, taxes, cesses and surcharges to be subsumed under GST, rates of GST, Goods and services subjected to GST etc./यह जीएसटी से सम्बंधित महत्वपूर्ण सिफारिशें करती हैं जैसे कि जीएसटी में सम्मिलित होने वाले कर, सेस व अधिभार, जीएसटी में शामिल वस्तु व सेवाएं इत्यादि |

Goods and Services Tax Network (GSTN)/वस्तु व सेवा कर नेटवर्क (जीएसटीएन) :

  • GSTN is  a not for profit, non-Government, private limited company incorporated in 2013./जीएसटीएन एक गैर-सरकारी, गैर-लाभकारी, निजी लिमिटेड कंपनी है जिसका निगमन 2013 में किया गया था |
  • It has been set up primarily to provide IT infrastructure and services to the Central and State Governments, taxpayers and other stakeholders for implementation of GST./जीएसटी के कार्यान्वयन के लिए केंद्र व राज्य सरकार, करदाताओं व अन्य हितधारकों को आईटी सरंचना व सेवाओं को प्रदान करने के लिए मुख्य रूप से इसकी स्थापना की गई |

 

 

Join Frontier IAS Online Coaching Center to prepare for UPSC/HCS/RAS Civil Service comfortably at your home at your own pace/time

HCS(Prelims+Mains+Interview)   HCS Prelims(Paper 1+Paper 2)    IAS+HCS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS+IAS Integrated(Prelims+Mains+Interview)    RAS(Prelims+Mains+Interview)     RAS Prelims     UPSC IAS Prelims      UPSC IAS(Prelims+Mains)

No Comments

Post a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: